वाराणसी। देवालय से पहले शौचालय का नारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लालकिला की प्राचीर से दिया था। पीएम के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में गंगा में शौचालय बनाने का कार्य किया गया है। जिसे लेकर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता विरोध प्रदर्शन करने के लिए आज वाराणसी के दशाश्वमेध घाट पर उतरे। जहां कार्यकर्ताओं ने मुंह पर काली पट्टी बांधकर के इसका विरोध किया। दरअसल वाराणसी के दशाश्वमेध घाट किनारे नदी में नाव पर डेडिकेटेड फ्रेट कोरिडोर कंपनी ने बायो टॉयलेट लगाया है। गंगा नदी में बायो टॉयलेट लगाए जाने को लेकर लोगों में खासा आक्रोश का माहौल है। लोगों का कहना है कि गंगा एक नदी नहीं बल्कि हमारी आस्था है और हमारी आस्था के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। मां गंगा में शौचालय लगा दिया गया। धर्म की नगरी वाराणसी में समाजवादी पार्टी कार्यकर्ताओं ने गंगा नदी में बने सुलभ शौचालय का जमकर विरोध किया ।अपने मुंह पर काली पट्टी बांधकर समाजवादी पार्टी कार्यकर्ताओ ने सरकार को चेतावनी दिया कि शौचालय नहीं हटाते हैं तो आगे और उग्र आंदोलन करने के लिए सपा कार्यकर्ता बाध्य होंगे।